Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

बसंत पंचमी के दिन अपने वाद्य यंत्र की पूजा कैसे करें

 बसंत पंचमी का दिन मां सरस्वती का दिन माना जाता है संगीतकारों एवं कलाकारों के लिए भी यह दिन विशेष माना जाता है सभी कलाकार बसंत पंचमी के दिन अपने वाद्य यंत्रों की पूजा निम्न प्रकार कर सकते है 2021 में बसंत पंचमी 16 फरवरी को आने वाली है शुभ मुहूर्त प्रात: काल 6:59 से लेकर दोपहर 12:35 मिनट तक है आप सुबह जल्दी उठकर नहा धोकर पीले वस्त्र पहन ले क्योंकि पीला रंग मां सरस्वती से संबंधित है

अब आप अपने घर के मंदिर में मां सरस्वती जी की मूर्ति स्थापित करें एवं पास में अपने वाद्य यंत्रों को भी रखें ध्यान रखें वाद्य यंत्रों को पवित्र पीले वस्त्र के ऊपर रखें है ताकि इन वाद्य यंत्रों को मां सरस्वती का आशीर्वाद मिल सके.

• मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित करें अब मां सरस्वती के मुकुट एवं अपने वाद्य यंत्रों पर तिलक करें

• मां सरस्वती के चरणों में सफेद रंग के पुष्प एवं पीली मिठाई अर्पित करें। अपने वाद्य यंत्र के ऊपर सफेद पुष्प रखें

• मां सरस्वती के समक्ष हाथ जोड़कर ध्यान मग्न होकर मां सरस्वती की उपासना करें एवं उनके भजन का गायन करें

सच्चे मन से याद करने पर मां सरस्वती जी का आशीर्वाद जरूर होगा। पूजा पूरी होने के बाद अपने घर के बाहर गाय को रोटी देखकर मां सरस्वती जी की स्तुति करें इस तरह बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा कर आप उनका आशीर्वाद पा सकते हैं












Post a comment

0 Comments